क्रिप्टोकरेंसी क्या है? क्रिप्टोकरेंसी कितने प्रकार की होती है? What is Crypto Currency?

आजकल हर कोई cryptocurrency में पैसे कमा रहा है लेकिन ये cryptocurrency क्या है और कैसे काम करती है, कैसे आप cryptocurrency में पैसे इन्वेस्ट कर सकते है या आप भी सर्च कर रहे है what is cryptocurrency in hindi तो यह सभी जानकारी आपको इस article में मिलेगी।

Cryptocurrency एक Decentralized currency है जिसकी जानकारी किसी एक व्यक्ति के पास नही होती, और ना ही किसी भी देश का इस पर नियंत्रण रहता है। पैसो ले लेन देन को ज्यादा सिक्योर बनाने के लिए blockchain technology के माध्यम से crypto का आदान प्रदान किया जाता है ताकि कोई भी आपकी जानकारी न चुरा पाए। इसके लिए आपको cryptocurrency के वॉलेट में रजिस्ट्रेशन करना होता है और फिर आप भी अपनी cryptocurrency खरीद सकते है।


तो चलिये विस्तार में जानते है कि cryptocurrency क्या होती है और कैसे आप cryptocurrency में इन्वेस्ट करके पैसे कमा सकते है।

Cryptocurrency क्या होती है।

Cryptocurrency एक Decentralized currency है जिसकी जानकारी किसी एक computer या किसी एक व्यक्ति के पास नही होती है। कोई भी देश की सरकार या कोई भी व्यक्ति का इस पर नियंत्रण नही रहता हैम इसलिए डिजिटल तरीक़े से इसका डेटा चुराया नही जा सकता है। blockchain technology पर इसको बनाया गया है। सबसे पहली cryptocurrency bitcoin थी। उसके बाद इसकी डिमांड बढ़ने से अब बहुत सारी crypto बनाई गई है। 

इसका कोई भौतिक स्वरूप नही होता यह एक डिजिटल करेंसी है। लेकिन digital currency से अलग होती है। इसको बनाने वाला जितनी चाहे उतनी करेंसी बना सकता है। रुपये या डॉलर की तरह इसमे लिमिट नही होती है। शेयर मार्केट की तरह इस पर भी ट्रेडिंग करी जाती है। ऐसे इसकी कोई वैल्यू नही होती जब तक लोग इसमे ललेन देन न करे।

Cryptocurrency value

Cryptocurrency की अपनी एक वैल्यू होती है लेकिन यह निर्भर करता है कि यह करेंसी कितनी popular है। मतलब इस करेंसी में कितना लेन देन होता है या इसके ऊपर कितने लोग ट्रेड करते है। कुछ crypto coin की कीमत लाखो में होती है तो कुछ cryptocoin की कीमत 1 रुपए से भी कम होती है। डॉलर या रुपये की तरह इस currency का भाव भी घटता बढता रहता है। 

लेकिन इनको खरीद रुपयो से ही जाता है अगर आप इन में इन्वेस्ट करना चाहते है तो या आप इसके बदले किसी को कुछ सामान या कोई सर्विस भी दे सकते है। 

Also Read : Blockchain क्या होता है और कैसे काम करता है ।

Cryptocurrency कैसे काम करती है

Cryptocurrency blockchain technology पर काम करती है इसमे अलग अलग कंप्यूटर्स में crypto mining के द्वारा crypto के लेन देन का डेटा रखा जाता है। यह डेटा किसी एक computer पर नही लाखो computer पर दर्ज होता है और जो लोग यह crypto mining करते है उन्हें miners कहा जाता है। इसके लिए super computers या अच्छे processor वाले computers की आवश्यकता होती है।

और इसकी सेक्युरिटी के लिए यह miners उस ब्लॉक के लिए cryptographic पहेली को हल करके उसके लिए एक सही या उचित hash कोड ढूंढते है। जिससे यह सिक्योर रहे। जब miner उस कोड को ढूंढ के block को सिक्योर कर देता है तो उस ब्लॉक को blockchain में जोड़ दिया जाता है। उसके बाद दूसरे nodes द्वारा उसको वेरीफाई किया जाता है। और इस पूरी process को consensus कहते है। और जो एक बार ये वेरीफाई हो जाता है तो उस miner को reward के रूप में कुछ coins दिए जाते है।

क्रिप्टो करेंसी कितने प्रकार की होती है? | Types of Cryptocurrencies

Cryptocurrency अभी के टाइम पर मार्केट में 100 से भी अधिक प्रकार के अवेलेबल है.

Bitcoin (BTC) [बिटकॉइन (बीटीसी)]
Ethereum (ETH) [एथेरियम (ETH)]
Binance Coin (BNB) [बिनेंस सिक्का (बीएनबी)]
Cardano (ADA) [कार्डानो (एडीए)]
Tether (USDT) [टीथर (यूएसडीटी)]
Solana (SOL) [सोलाना (सोल)]
XRP (XRP) [एक्सआरपी]
Polkadot (DOT) [पोल्का डॉट्स (डॉट)]
Dogecoin (DOGE) [डॉगकोइन (DOGE)]
USD Coin (USDC) [यूएसडी कॉइन (USDC)]
Terra (LUNA) [टेरा (लूना)]
Uniswap (UNI) [यूनिस्वैप (यूएनआई)]
SHIBA INU (SHIB) [शीबा इनु (शिब)]
Chainlink (LINK) [चेनलिंक (लिंक)]
Avalanche (AVAX) [अवलांचे (AVAX)]
Wrapped Bitcoin (WBTC) [रैप्ड बिटकॉइन (WBTC)]
Litecoin (LTC) [लाइटकॉइन (एलटीसी)]
Binance USD (BUSD) [बिनेंस यूएसडी (बीयूएसडी)]
Algorand (ALGO) [अल्गोरंड (अलगो)]
Bitcoin Cash (BCH) [बिटकॉइन कैश (बीसीएच)]
Polygon (MATIC) [पोलीगोन (MATIC)]
Stellar (XLM) [स्टेलर (XLM)]
VeChain (VET) [वीचेन (वीईटी)]
Axie Infinity (AXS) [एक्सी इन्फिनिटी (AXS)]
Cosmos (ATOM) [कॉसमॉस (एटम)]
FTX Token (FTT) [एफटीएक्स टोकन (एफटीटी)]
Internet Computer (ICP) [इंटरनेट कंप्यूटर (आईसीपी)]
Filecoin (FIL) [फाइलकोइन (FIL)]
Fantom (FTM) [फंटोम (एफटीएम)]
Ethereum Classic (ETC) [एथेरियम क्लासिक (ईटीसी)]
TRON (TRX) [ट्रॉन (TRX)]
THETA (THETA) [थीटा]
Bitcoin BEP2 (BTCB) [बिटकॉइन BEP2 (BTCB)]
Klaytn (KLAY) [क्लेटन (KLAY)]
IOTA (MIOTA) [आईओटीए (एमआईओटीए)]
eCash (XEC) [ईकैश (एक्सईसी)]
DAI (DAI) [डीएआई]
Elrond (EGLD) [एलरोनड (ईजीएलडी)]
Quant (QNT) [क्वांट (क्यूएनटी)]
Hedera (HBAR) [हेडेरा (HBAR)]
Tezos (XTZ) [तेजोस (XTZ)]
NEAR Protocol (NEAR) [नियर प्रोटोकॉल (निकट)]
Monero (XMR) [मोनेरो (एक्सएमआर)]
The Graph (GRT) [द ग्राफ (जीआरटी)]
Crypto.com Coin (CRO) [क्रिप्टो डॉट कॉम कॉइन (सीआरओ)]
PancakeSwap (CAKE) [पैनकेक स्वैप (केक)]
EOS (EOS) [ईओएस]
Flow (FLOW) [फ्लो]
Aave (AAVE) [आवे (आवे)]
Kusama (KSM) [कुसमा(KSM)]
Harmony (ONE) [हारमनी(वन)]
Bitcoin SV (BSV) [बिटकॉइन एसवी (बीएसवी)]
Neo (NEO) [नियो (एनईओ)]
UNUS SED LEO (LEO) [उनुस सेड (लियो)]
Waves (WAVES) [वेव्स]
THORChain (RUNE) [थोरचेन (रन)]
Stacks (STX) [स्टैक्स (एसटीएक्स)]
TerraUSD (UST) [टेरायूएसडी (यूएसटी)]
Maker (MKR) [मेकर (एमकेआर)]
BitTorrent (BTT) [बिटटोरेंट (बीटीटी)]
Celo (CELO) [सेलो (सेलो)]
Zcash (ZEC) [ज़कैश (जेडईसी)]
Helium (HNT) [हीलियम (HNT)]
OMG Network (OMG) [ओएमजी नेटवर्क (ओएमजी)]
Amp (AMP) [एएमपी (एएमपी)]
Chiliz (CHZ) [चिलिज़ (CHZ)]
Compound (COMP) [कंपाउंड (COMP)]
Curve DAO Token (CRV) [कर्व डीएओ टोकन (सीआरवी)]
Arweave (AR) [अरवेव (एआर)]
Decred (DCR) [डिक्रेड (डीसीआर)]
Holo (HOT) [होलो (हॉट)]
Huobi Token (HT) [हुओबी टोकन (एचटी)]
Theta Fuel (TFUEL) [थीटा फ्यूल (टीएफयूईएल)]
OKB (OKB) [ओकेबी]
NEM (XEM) [एनईएम (एक्सईएम)]
Enjin Coin (ENJ) [इंजिन कॉइन (इएनजे)]
Nexo – NEXO [नेक्सो]
Revain – REV [रेवेन – रेव]
Decentraland -MANA [Decentraland – माना]
ICON – ICX [आइकॉन – आईसीएक्स]
KuCoin Token – KCS [कुकॉइन टोकन – KCS]
SushiSwap – SUSHI [सुशी स्वैप –सुशी]
Qtum – QTUM [क्यूटम – क्यूटीयूएम]
Zilliqa – ZI [ज़िलिका-ज़ि]
Mina – MINA [मीना]
TrueUSD – TUSD [ट्रूयूएसडी – टीयूएसडी]
yearn. finance – YFI [एअर्न फाइनेंस – वाईएफआई]
XDC Network- XDC [एक्सडीसी नेटवर्क- एक्सडीसी]
Celsius – CEL [सेल्सियस – सीईएल]
Bitcoin Gold – BTG [बिटकॉइन गोल्ड – बीटीजी]
Ravencoin – RVN [रेवेनकोइन – RVN]
Perpetual Protocol – PERP [पेर्पेचुअल प्रोटोकॉल – PERP]
Ren – REN [रेन]
Synthetix – SNX [सिंथेटिक्स – एसएनएक्स]
renBTC – RENBTC [रेनबीटीसी – आरईएनबीटीसी]
Horizen – ZEN [होराइजन – ज़ेन]
Telcoin – TEL [टेलकॉइन – टेल]
Serum – SRM [सीरम – एसआरएम]
DigiByte – DGB

Cryptocurrency Market

Cryptocurrency market मतलब वो market जहा आप crypto currency का लेनदेन कर सकते है। या crypto currency ट्रेडिंग कर सकते है इसमें इन्वेस्ट कर सकते है। इसके लिए बस आपको इन market में अपना account बनाना होता है और आप वायर transfer uPI या debit card, credit card के माध्यम से payment करके इन crypto coins को खरीद सकते है। इन crypto currency market को digital currency exchange या cryptocurrency exchange भी कहा जाता है।

Top crypto currency exchanges
  • Binance
  • Coinbase
  • Coinmama
  • Kraken
  • CEX.IO LTD.
  • Gemini
  • eToro
  • KuCoin
  • Bittrex
  • Huobi
  • Bitfinex
  • Bitstamp
  • OKX
  • Poloniex
  • WazirX
  • bitFlyer
  • bithumb
  • BitMEX
  • CoinDCX
  • UPbit
  • Digifinex
  • Luno

Cryptocurrency के फायदे

Cryptocurrency का इतना प्रचलित होने का एक कारण यही है कि इसके बहुत सारे फायदे है इनमे से कुछ निम्नलिखित फायदे है।

  • Crypto currency एक सुरक्षित currency है
  • Cryptocurrency में ललेनदेन करना बहुत आसान है।
  • इसके लिए  बहुत सारे क्रिप्टो exchanges उप्लब्ध है।
  • यह किसी भी सरकार के नियंत्रण में नही रहती।
  • इसमे fraud नही किया जा सकता है
  • Crypto currency में इन्वेस्ट करके आप कम समय  में अच्छा पैसा कमा सकते है।

Cryptocurrency के नुकसान

जिस प्रकार crypto currency के फायदे है उसी प्रकार crypto currency के बहुत सारे नुकसान भी है उनमें से कुछ निम्न लिखित है।

  • Crypto currency पर किसी भी सरकार का नियंत्रण नही है ये फायदे के साथ साथ नुकसान भी है
  • इसकी कीमत को Manipulate किया जा सकता है।गैर कानूनी कामो में इसका उपयोग किया जाता है।
  • बहुत सारे देशो में इसको बैन कर दिया गया है।
  • जितना ज्यादा आप इससे कम समय मे profit उठा सकते है उसी प्रकार इसमे बहुत ज्यादा loss भी हो जाता है।

क्या crypto currency legal है।

अब आप भी अगर crypto currency से पैसे कमाना चाहते है तो ये जानना जरूरी है कि क्या crypto currency लीगल है? तो जैसा कि आपको पता है क्रिप्टो करेंसी पर किसी भी देश का नियंत्रण नही है और सारे illegal काम crypto currency के माध्यम से ही होते है। लेकिन इसका सही तरीके से इस्तेमाल करे तो यह एक अच्छी करेंसी भी है। न तो इसको इललीगल कहा जा सकता है ना लीगल। कुछ देशों में यह लीगल है तो कुछ देशों में यह illegal है।कुछ देशों ने cryptocurrency को ban कर दिया है।

Cryptocurrency : सारांश

इस आर्टिकल में आपने सिखा कि cryptocurrency क्या होती है। और कैसे काम करती है। cryptocurrency से पैसे कैसे कमाए। साथ ही इसमे आपको top crypto exchanges के बारे मे भी जानकारी दी गयी है। अगर इसके अतिरिक्त आप cryptocurrency के बारे में जानकारी चाहते है तो आप comment section के पूछ सकते है।

 73 total views,  1 views today

Leave a Comment